aloo chutney recipe in hindi – आलू सब्जियों का राजा हैं, हर किसी को आलू की सब्जी पसंद हैं। लेकिन बहुत ही कम लोग हैं जिनहे आलू के चटनी के बारे मे पता होता हैं। बहुत से लोगो को तो आलू की चटनी के बारे मे कुछ पता ही नहीं होता हैं। आज इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे की कैसे आलू की चटनी बनाए। आलू की चटनी कई तरीको से बनाई जाती हैं। लेकिन आज हम जिस तरीके का इस्तेमाल कर के आलू की चटनी बनाने का तरीका बताएँगे। उस तरीके से सबसे सरल और स्वादिष्ट आलू की चटनी बन कर तैयार होगी। आलू की चटनी के साथ, आप रोटी, पराठा, पूरी, चावल-दाल आदि खा सकते हैं।

आलू की चटनी को बनाने की सामाग्री

  • उबले हुये आलू – 4 से 5 नग
  • भुने हुये लाल मिर्च – 2 से 3 नग
  • भुना हुआ जीरा पाउडर – 2 चम्मच
  • सारसो का दाना – आधा चम्मच
  • सारसो का तेल – दो चम्मच
  • लहसुन – 5 से 6 फलियाँ
  • कड़ी पत्ता – 4 से 5 नग
  • ताजे और पके हुये नींबू – 2 नग
  • काली मिर्च का पाउडर – स्वादानुसार
  • सेंधा और काला नमक – स्वादानुसार

आलू की चटनी बनाने की विधि

  • सबसे पहले हम आलू लेंगे और उसे अच्छे से धोकर, प्रेशर कुकर में रख देंगे, साथ में एक गिलास पानी डालकर कुकर को अच्छे से बंद करके धीमी आंच में एक सिटी लगने तक पका लेंगे।
  • एक सिटी लगने के बाद हम गैस को बंद कर देंगे। इसके बाद प्रेशर कुकर को ठंडा होने के लिए उसे अलग रख देंगे।
  • प्रेशर कुकर जब ठंडा हो जाएगा तो उससे सारे आलू निकालकर, आलू के छिलके को अच्छे से निकाल लेंगे।
  • इसके बाद आलू को एक बाउल में रखेंगे और उसे अच्छे से हाथों से मैश कर लेंगे। इसके बाद उसमें दो नींबू निचोड़ देंगे।
  • नींबू को डालने के बाद भुनी हुई लाल मिर्च को हाथों से मैश करके लाल मिर्च के फ्लक्स को आलू वाले मिश्रण में डाल देंगे।
  • इसके बाद भुने हुए जीरे के पाउडर को भी उस आलू के मिश्रण में डालकर हाथों से अच्छे से मिश्रण को मिला लेना है। चार से पांच लहसुन की कलियों को अच्छे से कूटकर इस मिश्रण में मिलाना है।
  • अब आलू की चटनी लगभग तैयार है, गैस को चालू करके उसमें तड़का पैन चढ़ा करके, दो चम्मच सरसों का तेल डालिए और उसमें तेल गर्म होने के बाद, सरसों के दाने और कड़ी पत्ते को डाल दीजिए।
  • जब सरसों के दाने और कड़ी पत्ते तड़कने लगे, तब तेल के इस तड़के को आलू की चटनी में डाल दे और चम्मच से तेल को आलू के चटनी में अच्छे से मिला ले।
  • चटनी को गार्निश करने के लिए, ताजे हरे धनिए के छोटे-छोटे टुकड़े करके, उसके ऊपर छिड़क दें।
  • अब हमारी आलू की चटनी खाने के लिए तैयार है, आलू की चटनी को हम रोटी, पराठे, पूरी या फिर चावल-दाल के भी साथ खा सकते हैं। अक्सर छोटे बच्चे सब्जी खाना पसंद नहीं करते हैं। उन्हें भी यह चटनी बहुत पसंद आएगी।
See also  लौकी का खीर बनाने की विधि

किन्हे आलू का सेवन नहीं करना चाहिए?

भारत मे आलू के बिना सब्जी कोई सोच भी नहीं सकता हैं। आलू भारतीयो के खाने के पारंपरिक व्यंजनो का अभिन्न हिस्सा हैं। इसलिए भारत मे आलू को सब्जियों का राजा माना जाता हैं। लेकिन मेडिकल साइंस के अनुसार कुछ बीमारियो मे आलू के सेवन से बचना चाहिए। अमरउजाला की एक रिपोर्ट के अनुसार निम्न लोगो को आलू के सेवन से बचना चाहिए।

  • जो लोग लगातार अपने वजन को लेकर चिंतित हैं, और वजन को कम करने का प्रयास कर रहे हैं, उन लोगो को आलू के सेवन से बचना चाहिए।
  • जिन लोगो को मधुमेह यानि की शुगर की शिकायत हो, उन लोगो को भी आलू के सेवन से बचना चाहिए।
  • हृदय रोगियो को भी आलू के सेवन मे सतर्कता बरतनी चाहिए। क्योंकि हृदय रोगियो को डॉक्टर बीटा-ब्लोकर्स कंपाउंड वाली दवाए देते हैं, जिसकी वजह से रक्त मे पोटेशियम की मात्रा बढ़ जाती हैं। इस लिए ऐसे रोगियो को आलू के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि आलू मे भी है पोटेशियम की मात्र होती हैं।
  • किडनी के रोगियो को भी आलू के सेवन मे सतर्कता बरतनी चाहिए, क्योंकि शरीर मे पोटेशियम की अधिक मात्रा किडनी रोगियो की समस्या को बढ़ा सकता हैं।

अस्वीकरण: वेबसाइट मे उपलब्ध यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी के लिए हैं। इस चिकत्सीय इस्तेमाल मे लेना सही विकल्प नहीं हैं। किसी भी चिकत्सीय राय के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से संपर्क करें। हमारी वैबसाइट मेरीबाते डॉट इन इस जानकारी की सत्यता की ज़िम्मेदारी नहीं लेता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *