कंप्यूटर एक बहुत ही महत्वपूर्ण खोज है जो मानव द्वारा बनाया गया है। आज कंप्यूटर का इस्तेमाल हर जगह पर हो रहा है, शुरुआती समय पर कंप्यूटर का इस्तेमाल केवल वैज्ञानिक और इंजीनियरिंग कार्यों के लिए ही किया जाता था। लेकिन आज कंप्यूटर का इस्तेमाल सूचनाओं को स्टोर करने के लिए, सूचनाओं को भेजने के लिए, दफ्तरी फाइल को बनाने के लिए, दफ्तर के कार्य को करने के लिए, बड़ी-बड़ी इंडस्ट्री के मशीन को चलाने के लिए, ऑनलाइन बिजनेस करने के लिए, टिकट बुक करने के लिए, गेम खेलने के लिए, गाने और पिक्चर देखने के लिए, इसके अलावा मेडिकल के क्षेत्र में भी कंप्यूटर का इस्तेमाल करके कई बीमारियों का पता लगाया जाता है।

यानी साफ शब्दों में अगर हम कहें तो कंप्यूटर का इस्तेमाल, आज इतना ज्यादा हो गया है कि अब कोई भी क्षेत्र कंप्यूटर से अछूता नहीं है। कोरोना काल की वजह से छोटे बच्चे भी अब कंप्यूटर-लैपटॉप और मोबाइल का इस्तेमाल ऑनलाइन क्लास लेने के लिए करने लगे हैं।

वर्ड प्रोसेसिंग के क्षेत्र मे

दफ्तर के सभी कार्य अब कंप्यूटर के माध्यम से किए जाते हैं जो कि पहले कागजी रजिस्टर में किए जाते थे। अब यह सभी काम कंप्यूटर की सहायता से किए जाते हैं, जिसकी वजह से सभी काम काफी तेजी के साथ होते हैं। दफ्तर के कार्य को करने के लिए कंप्यूटर में एक विशेष सॉफ्टवेयर इस्तेमाल किया जाता है। जिसे वर्ड प्रोसेसिंग सॉफ्टवेयर कहते हैं। इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके हम फाइल को क्रिएट, मैनिपुलेटिंग और स्टोर कर सकते हैं। इन फाइल में हम आवेदन, सूचनाएं, अटेंडेंस, रिपोर्ट और रशीद को सुरक्षित रख सकते हैं।

एकाउंटिंग के क्षेत्र में कंप्यूटर का भरपूर मात्रा में इस्तेमाल होता है, और कंप्यूटर का इस्तेमाल करके अकाउंट लेजर, बजट, इन्वेंटरी कंट्रोल, शेयर खरीदने और बेचने की जानकारी तथा प्रॉफिट और लॉस का एनालिसिस आदि सब कुछ अब कंप्यूटर में हो रहा है। कंप्यूटर में अकाउंटिंग कार्य करने से खातों का एनालिसिस, लाभ और नुकसान का एनालिसिस बहुत ही जल्दी किया जा सकता है और जो आंकड़े मिलते हैं वह टेबल और ग्राफिक के रूप में मिलते हैं जिन्हें समझना आसान भी होता है।

See also  कंप्यूटर नेटवर्क क्या है? और कंप्यूटर नेटवर्क का इतिहास

डाटा मैनेजमेंट के क्षेत्र मे

आज के कंप्यूटर सिस्टम बहुत ज्यादा मात्रा में जानकारियों को स्टोर कर सकते हैं। जानकारियों को रखने के लिए कंप्यूटर में एक सॉफ्टवेर का इस्तेमाल किया जाता है जिसे डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम कहते हैं, इस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके बहुत सारी जानकारियों को टेबल के रूप में सुरक्षित किया जा सकता है। जिस प्रकार एक जगह पर कई हवाई जहाज आकर रुकते हैं तो उस स्थान को एयर बेस कहा जाता है, ठीक उसी तरीके से कंप्यूटर में जिस जगह पर बहुत से डाटा आकर स्टोर होते हैं उस जगह को डेटाबेस कहते हैं।

डेटाबेस की सहायता से बड़े आकार के डाटा को बड़ी सरलता से स्टोर किया जा सकता है। डेटाबेस किसी भी जानकारी को स्टोर करने के लिए टेबल का इस्तेमाल करता है, टेबल में स्टोर करने की वजह से डाटा को आसानी से खोज सकता है। डाटा को निश्चित ऑर्डर में शार्ट कर सकता है। आज जितनी भी संस्थाए/कंपनियां हैं, वह सभी अपने डाटा को व्यवस्थित करने के लिए डेटाबेस का इस्तेमाल करते हैं। अगर हम यूट्यूब, फेसबुक, टि्वटर इंस्टाग्राम जैसी बड़ी वेबसाइटों की बात करें तो यह सभी डाटा देश का इस्तेमाल करते हैं। लगभग हर वह संस्था जो डाटा को मैनेज करने का काम कर रही है या जिसके पास डाटा कलेक्ट होता है, वह सब डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम नाम के कंप्यूटर एप्लीकेशन का इस्तेमाल करते हैं।

लेकिन कुछ छोटी संस्थाएं होती हैं जिनके पास बहुत ज्यादा मात्रा पर डाटा नहीं होता उदाहरण के लिए एक छोटा सा स्कूल, लेकिन वह भी डाटा को मैनेज करने के लिए स्प्रेडशीट नाम के एप्लीकेशन का इस्तेमाल करती है जो कि डेटाबेस की समान होती है।

बैंकों में लगभग हर किसी का खाता होता है, रोजाना किसी एक बैंक में हजारों लोग आकर अपने खाते से पैसे निकालते हैं या फिर अपने खाते में पैसे जमा करते हैं। इन सभी जानकारियों को व्यवस्थित करने के लिए बैंकिंग संस्था डेटाबेस सिस्टम का ही इस्तेमाल करते हैं।

See also  कम्प्यूटर का परिचय (Introduction of Computer)

हाइब्रिड मशीनों के क्षेत्र मे

इसके अलावा कई हाइब्रिड मशीनें हैं जिनमें कंप्यूटर एप्लीकेशन का इस्तेमाल भरपूर होता है। उदाहरण के लिए एटीएम मशीन, एटीएम मशीन एक हाइब्रिड कंप्यूटर है। जिसे हम कह सकते हैं आधा मशीन और आधा कंप्यूटर। एटीएम का इस्तेमाल लोग बैंकों से अपने पैसे निकालने के लिए करते हैं। इस मशीन को संचालित करने के लिए भी कंप्यूटर एप्लीकेशन का इस्तेमाल इस मशीन में किया जाता है। कंप्यूटर का इस्तेमाल घर की दूसरी चीजों में भी अब होने लगा है। जैसे वाशिंग मशीन में, टीवी में और मोबाइल फोन मे है, लगभग कंप्यूटर एप्लीकेशन अब हर जगह विद्यमान हो रहा है क्योंकि अब हमारा जो समय है, वह डिजिटल युग है। हम हर काम कंप्यूटर या हैंडहेल्ड कंप्यूटर जिसे हम मोबाइल कहते हैं का इस्तेमाल करके कर रहे हैं।

मेडिकल के क्षेत्र मे

मेडिकल फील्ड में भी कंप्यूटर का इस्तेमाल बहुत ज्यादा हो रहा है, कंप्यूटर का इस्तेमाल करके मेडिकल प्रोफेशनल किसी रोगी के शरीर का अध्ययन करते हैं और उसके बीमारी का पता लगाते हैं उदाहरण के लिए MRI मशीन, सोनोग्राफी मशीन, ECHO मशीन, ECG मशीन, सीटी स्कैन आदि। इसके अलावा ब्लड टेस्ट के लिए भी अब कंप्यूटर का इस्तेमाल काफी बढ़ चढ़के किया जा रहा है। इसके अलावा मेडिकल फील्ड में एक्सपर्ट सिस्टम भी बनाए जा रहे हैं जो कि वास्तव में एक मशीन है पर वह मरीजों की बात को सुनकर उनकी बीमारियों का पता लगाते हैं इसके अलावा दवाइयां भी देते हैं।

एआई के क्षेत्र मे

रोबोट भी कंप्यूटर से नियंत्रित होने वाली एक मशीन है, जिसके पास अपने हाथ, पैर और देखने और सुनने के लिए सेंसर हो सकते हैं। यह सब कंप्यूटर के एप्लीकेशन के माध्यम से ही नियंत्रित किए जाते हैं। रोबोट मे AI नाम का कम्प्युटर एप्लिकेशन इन मशीनों मे इस्तेमाल होता हैं। रोबोट जैसी मशीनों का इस्तेमाल इंडस्ट्री में मटेरियल या असेंबलिंग पार्ट को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाने के लिए किया जाता है। लेकिन अब ऐसे रोबोट्स भी बन रहे हैं जो किसी होटल में खाने को सर्व करेंगे और आपके घर में सफाई करने का काम ही करेंगे। यह सब इसलिए संभव हो पा रहा है, क्योंकि इन सभी में कंप्यूटर एप्लीकेशन का इस्तेमाल किया जाता है।

See also  MS DOS की सहायता से C Program को कैसे Run करे | Excute C Program using CMD

इंटरनेट के क्षेत्र मे

इंटरनेट कंप्यूटर नेटवर्क का सबसे ज्यादा विस्तृत रूप है, आज घर-घर में इसका इस्तेमाल किया जा रहा है, वर्तमान में अरबो वेबसाइट हैं, जो कि इंटरनेट में उपलब्ध है, वेबसाइट में तरह तरह की जानकारियों को उपलब्ध कराया जा रहा है, लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करके इन जानकारियों तक लोग अपनी पहुंच बनाते हैं। इंटरनेट में मौजूद इन वेबसाइट को एक्सेस करने के लिए भी कंप्यूटर एप्लीकेशन का इस्तेमाल किया जाता है। इंटरनेट को एक्सेस करने के लिए जिस कंप्यूटर एप्लीकेशन को इस्तेमाल किया जाता है उसका नाम है बेव ब्राउजर

तरह-तरह के वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल करके इंटरनेट में मौजूद इन अरब वेबसाइट को कभी ना कभी एक्सेस करते रहते हैं।

मोज़िला, गूगल क्रोम, सफारी, ओपेरा, इंटरनेट एक्सप्लोरर, Edge यह सब ब्राउजिंग कंप्यूटर एप्लीकेशन है और हम इन्हीं ब्राउज एप्लीकेशन का इस्तेमाल करके इंटरनेट की जानकारियों को एक्सेस करते हैं। नोटबंदी के बाद भारत में ऑनलाइन खरीदारी और पैसों की लेन-देन का चलन काफी बड़ा है। इंटरनेट में चीजों को खरीदने के लिए हम जिन वेबसाइट को एक्सेस करते हैं उन्हें एक्सेस करने के लिए हम वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल करते हैं।

लोकप्रिय कम्प्युटर एप्लिकेशन

  1. गूगल क्रोम
  2. एमएस वर्ड
  3. टैली
  4. एमएस एक्सेल
  5. गूगल मीट
  6. नोटपैड
  7. VLC मीडिया प्लेयर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *