घर में मेंढक का आना, medhak ka ghar aana, sabse jahrila medhak kaun sa hota hain,

🐸 घर में मेंढक का आना होता है शुभ, साथ लाती है बरकत (Best and Top Post of 2022)

वस्तुशास्त की मानें तो घर में मेंढक का आना शुभ होता हैं। क्यों की मेंढक सुख और समृद्धि का प्रतीक माना जाता हैं। मेंढक की आबाज भी इंसान के लिए बहुत लाभकारी होता हैं। इससे जीवन में खुशहाली आती हैं और कष्टों से मुक्ति मिलती हैं।

Table of Contents

घर में मेंढक का आना होता है शुभ, साथ लाती है बरकत।

1 .घर में मेंढक का आना धन-समृद्धि की भी वर्षा करती है। ये अपने साथ घर में बरकत ले कर आती हैं।

2 .ऋग्वेद में मेंढक को मांगलिक तथा शुभ माना गया है। इससे जीवन में सुख, शांति और समृद्धि आती हैं।

3 .घर में मेंढक का आना शांति का प्रतीक हैं। इससे घरों की नकारात्मक शक्तियां दूर हो जाती हैं।

4 .फेंगशुई के अनुसार मेंढक को घर में रखना शुभ होता है। आप अपने घर में मेंढक की मूर्ति भी रख सकते हैं।

5 .घर में मेंढक का आना, घर में रहने वालों के बीच अच्छा तालमेल का संकेत  हैं।

6 .घर में आने वाला मेंढक अपने साथ धन लेकर भी आती हैं। इससे इंसान को बिजनेस व्यापार में तरक्की प्राप्त होती हैं।

स्पेन मे मेढक को शुभ क्यो मानते हैं?

स्पेन मे मेढक की चीनिमित्ती की बनी मूर्तिया रखने का क्रेज हैं, वहाँ के लोगो का माना हैं की घर या शॉप मे चीनी मिट्टी के बने मेढक को रखने से जीपप्सी, तथा भूत प्रेत जैसी बुरी आत्मा दूर रहती हैं।

अमेरिका मे मेढक को शुभ माना जाता हैं या अशुभ?

अमेरिका मे भी मेढक को शुभ माना जाता हैं तथा वहाँ के लोग सकारात्मक ऊर्जा के लिए घर मे मेढक के प्रतीक को रखते हैं, अमेरिका के लोगो का मानना हैं, की मेढक पॉज़िटिव ऊर्जा को लेकर आता हैं, तथा घर से निगेटिव ऊर्जा को दूर करता हैं।

See also  सपने में खुद को रोते देखना | sapne me khud ko rote dekhna

FAQ- अगर सपने मे दिखे मेढक, तो इसका क्या मतलब होता हैं?

अगर आप स्वप्न मे यानि की सपने मे मेढक को देखते हो तो इसका मतलब हैं की आने वाले समय मे आपको बहुत ही अच्छी खबर मिलने वाली हैं, मेढक को धन-धान्य से जोड़ कर देखा जाता हैं,  और अगर आप सपने मे मेढक देखते हैं तो निश्चित रूप से आपके रुके हुये कार्य पूरे हो जाएंगे। या फिर कही न कही से आपको धन का लाभ होगा।

सुबह सुबह मेंढक देखने से क्या होता है?

ऋग्वेद मे मेढक को मंडूक कहा गया हैं, मेढक को हिन्दी धर्म शास्त्रो मे शुभ माना गया हैं, कई लोग मेढक की उरती को घर मे रखते   हैं। अगर सुबह सुबह आपने मेढक का सपना देखा हैं, तो इसका अर्थ हैं की जल्दी ही आपको कोई बड़ा लाभ होने वाला हैं।

FAQ- अगर सपने मे काला मेढक देखे तो इसका क्या मतलब हैं?

अगर आप सपने मे काला मेढक देखते हैं तो इसका अर्थ हैं की आपके जीवन मे कठिनाइयो का समय आने वाला हैं। हालांकि यह अस्थाई संकट हैं जो जल्दी हो दूर हो जाएगा। मेढक को इन्सानो का हितकारी माना गया हैं, इस लिए सपने मे काला मेढक देखने का मतलब हैं की वह आपको आने वाले बुरे समय के बारे मे सचेत कर रहा हैं। अगर काला मेढक सपने मे कूद कर दूर चला जाता हैं, तो इसका अर्थ हैं की आने वाला कष्ट जल्दी ही समाप्त हो जाएगा, लेकिन सपने मे काला मेढक कूदते हुये आपके पास आ रहा हैं तो, इसका अर्थ हैं की कष्ट का समय ज्यादा दिनो तक चलेगा।

मेढक किसका प्रतीक हैं?

मेढक ताप एवं संतोष का प्रतीक माने जाते हैं। मेढक पूरे वर्ष बारिश के मौसम का इंतेजार करते हैं, इस दौरान वो हाइबरनेशन मे चले जाते हैं, यानि की एक लंबी नींद के लिए।

मेंढक की उम्र कितनी होती है?

मेढक की उम्र इन्सानो की तरह लंबी नहीं होती हैं, बल्कि मात्र 12 वर्ष की होती हैं। हालांकि मेढक के कुछ प्रजातीय हैं जिनकी उम्र लगभग 22 वर्ष से लेकर 35 वर्ष तक की होती हैं।

मेंढक एक बार में कितने अंडे देती है?

मेढक पानी एवं नमी वाले स्थल मे रहने वाला जीव हैं। मेढक 6 से 10 दिन के बीच मे वयस्क हो जाते हैं तथा एक बार मे 10 से लेकर 150 तक के अंडे दे सकते हैं।

मेंढक पानी में बिना सांस लिए कितनी देर तक रह सकता है?

मेढक पानी और जमीन दोनों मे रहने वाला जन्तु हैं, लेकिन मेढक पानी मे लगातार नहीं रह सकता हैं। उसे जमीन मे आना ही पड़ता हैं। मेढक पानी मे लगातार 54 से लेकर 7 घंटे तक रह सकता हैं। मेढक सभी देशो मे पाया जाने वाला जीव हैं तथा विश्व मे इसकी 5000 तक की प्रजाति को खोजा जा चुका हैं।

See also  आंवले का पेड़ लगाना शुभ होता है या अशुभ | Amla ka ped kis din lagana chahiye

मेंढक के दांत होते हैं क्या?

हा मेढक के दाँत होता हैं। लेकिन ऊपरी जबड़े मे, मेढक अपने दांत का इस्तेमाल करके अपने भोजन को निगलता हैं। जैसे साँप अपने दाँतो का इस्तेमाल करके अपने भोजन को निगलता हैं।

मेंढक को बोलने से क्या होता है?

अगर मेढक बोलता हैं यानि की टर्र-टर्र की आवाज निकलता हैं तो इसका मतलब हैं की बारिश होने वाली हैं। गाँव मे जब आज की तरह मौसम से संबन्धित सुचनाए नहीं मिलती थी, तब उस समय किसान मेढक के आधार पर ही बारिश के आने के बारे मे जान जाते थे।