अपराजिता के फूल, aparajita ke fool, aparajita ke fayade,

इस चमत्कारी फूल से दूर हो जाते हैं घर के लड़ाई झगड़े और गरीबी | Aparajita

Aparajita : हिन्दू धर्म मे पेड़ पौधो को बहुत ही महत्व दिया गया हैं। यहाँ तक की हिन्दू धर्म मे कई पेड़ो को पुजा जाता हैं। भारत के झंडे मे मौजूद हारा रंग भी इसी चीज को दर्शाता हैं। लेकिन हिन्दू धर्म मे पेड़ -पौधो को दो भागो मे बांटा गया हैं, एक जिनहे घर मे लगाया जा सकता हैं तथा दूसरे वो पौधे जिनहे घर मे नहीं लगाया जा सकता हैं। जिन पेड़-पौधो को घर मे नहीं लगाया जा सकता हैं, उन्हे अगर कोई व्यक्ति अपने घर मे लगा लेता हैं तो धर्म शास्त्रो मे बताया गया हैं, की ऐसी स्थिति मे वो पेड़ नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह करते हैं, जिससे घर कुछ न कुछ गलत चीजे होती रहती हैं।

लेकिन कुछ ऐसे भी पेड़ और पौधे होते हैं जिन्हें घर में लगाने से घर में आर्थिक तंगी दूर होती है घर की लड़ाइयां बंद हो जाती हैं और घर में सुख और संपदा का विकास होता है। इन्हीं पौधों में से एक पौधा है अपराजिता का यह एक नीले रंग का फूल देने वाला पौधा है। ऐसा माना जाता है कि यह फूल भगवान विष्णु और भगवान शनि देव को बहुत पसंद है। ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि अगर घर में लड़ाई झगड़े होते हैं आर्थिक तंगी और कई प्रकार की परेशानियों से लोग जूझ रहे हैं तो ऐसे घरों में लोगों को अपराजिता के फूल का पौधा जरूर लगाना चाहिए। जिस घर में अपराजिता के फूल के पौधे लगे होते हैं उस घर की किस्मत चमकने लगती है। तो आइए जानते हैं इस फूल को लगाने से किस प्रकार के फायदे प्राप्त होते हैं

सोमवार के दिन नदी में अपराजिता के फूल को प्रवाहित करने के फायदे

हिंदू शास्त्रों में बताया गया है कि जिन घरों में लोगों को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। खूब मेहनत करने के बाद भी उनके घर में पैसे नहीं रुक पा रहे हैं अगर पैसे खूब आ रहे हैं फिर भी खर्च हो जाते हैं और बचत नहीं हो पाती है तो ऐसे घर के सदस्यों को अपराजिता के फूल से संबंधित कुछ उपाय जरूर करनी चाहिए। इसके लिए सोमवार के दिन घर के या फिर गांव के आसपास अगर कोई नदी या फिर नहर है उसमें अपराजिता के ताजे टूटे हुए पांच फूलों को लेकर प्रवाहित करना चाहिए। प्रवाहित करते समय भगवान शंकर भगवान विष्णु शनि देव और माता लक्ष्मी का स्मरण करना चाहिए ऐसा करने से माना जाता है कि आर्थिक तंगी हमेशा के लिए घर से दूर हो जाती है। फूल को प्रवाहित करते समय नदी से दूरी बना कर रखे।

See also  कौन है अलक्ष्मी (ALAKSHMI), ऋषि के साथ हुआ था विवाह, घर को कर देती हैं बर्बाद

अपराजिता के फूलों की माला का चमत्कार

कई लोग जीवन में कुछ बड़ा करना चाहते हैं उनकी बहुत सारी मनोकामनाएं होती हैं लेकिन कई प्रयासों के बावजूद भी उनकी वह मनोकामनाएं पूर्ण नहीं हो पाती हैं। तो जिन लोगों को अपनी मनोकामना को पूर्ण करना होता है वह लोग अपराजिता के फूल के उपाय करके अपनी मेहनत में ग्रहण लगाए हुए बुरी किस्मत को दूर कर सकते हैं। इसके लिए अपराजिता के फूलों की बनी हुई माला को माता दुर्गा भगवान शिव और भगवान विष्णु को चढ़ाना चाहिए मान्यता है कि जो भी जातक इस प्रकार के उपाय करता है जल्दी उसकी मनोकामना पूर्ण होती है।

विवाह में आ रही अड़चनों को दूर करता है

ऐसे बहुत से लोग हैं जिनके शादी में अड़चनें आती हैं जिसकी वजह से उनकी शादी में विलंब होता जाता है। अगर ऐसा कोई व्यक्ति घर में है जिसके विवाह में लगातार देरी होती जा रही है ऐसे व्यक्ति को भी अपराजिता के फूल का उपाय करना चाहिए यह एक रामबाण उपाय माना गया है। इसके लिए सबसे पहले किसी सुनसान स्थान को खोजना होगा इसके बाद लकड़ी के किसी नुकीले औजार से मिट्टी को खुद ना होगा फिर उस मिट्टी में अपराजिता के पांच फूलों को दबाना होगा। ऐसा माना जाता है कि इस प्रकार के उपाय को करने से विवाह में आ रही अड़चनों का सफाया हो जाता है और विवाह जल्दी से जल्द संपन्न हो जाता है।

घर के लड़ाई झगड़ों को दूर करता है

घर में लड़ाई झगड़ा होना आम बात है लेकिन जब ग्रह नक्षत्र खराब होते हैं या किसी भूत प्रेत की छाया घर में होती है तो बिना मतलब की बातों पर भी लड़ाई झगड़े होने लगते हैं जो कि घर को नर्क बना देते हैं। अगर हर बात पर छोटी-छोटी बात पर घर में भयंकर लड़ाई झगड़े होते हैं तो यह एक आम बात नहीं है इसका मतलब है कहीं ना कहीं किसी प्रकार का कोई दोष घर में मौजूद है। जिस व्यक्ति के घर में इस तरह के लड़ाई झगड़े होते हो वह लोग भी अपराजिता के फूल की मदद से घर में होने वाले लड़ाई झगड़ों को दूर कर सकते हैं। हिंदू शास्त्रों में बताया गया है कि प्रत्येक शनिवार को जो व्यक्ति शनि देव को अपराजिता के फूल अर्पित करेगा उसके घर में गृह क्लेश और लड़ाई झगड़ों जैसी समस्याएं दूर हो जाएंगे। इसके अलावा हर सोमवार को भी अगर कोई व्यक्ति अपराजिता के फूल को शिवलिंग पर चढ़ाता है तो ऐसे व्यक्ति के घर में भी बिना मतलब की लड़ाई झगड़े और गृह क्लेश दूर हो जाते हैं।

See also  2023 मे महाशिवरात्री कब हैं | 2023 me Mahashivratri kab hai

घर में बढ़ाता है धन संपदा

अगर कोई व्यक्ति बहुत मेहनत कर रहा है लेकिन उसके अनुरूप वह धन अर्जन नहीं कर पाता तथा उसके घर में पैसे टिक नहीं पाते हैं ऐसे व्यक्ति को अपराजिता के फूल से संबंधित कुछ उपाय जरूर करनी चाहिए। इन समस्याओं से निजात पाने के लिए उस व्यक्ति को मंगलवार के दिन हनुमान मंदिर में जाकर हनुमान जी को अपराजिता के पुष्प चढ़ाने चाहिए। इसके बाद चढ़े हुए उन पुस्तकों को कुछ देर बाद उठाकर अपने बटुए या फिर तिजोरी में रख लेना चाहिए ऐसा करने से घर में धन आने का योग बनता है।

FAQ : अपराजिता को घर मे किस दिन लगाना चाहिए?

अपराजिता के फूल के पौधो को सप्ताह के किसी दिन भी लगाया जा सकता हैं लेकिन गुरुवार और शुक्रवार के दिन इन्हे लगाने से विशेष फल प्राप्त होता हैं।

FAQ : अपराजिता का पौधा किस दिशा मे नहीं लगाना चाहिए?

अपराजिता के फूल का पौधा घर मे लगाने से कई प्राकार के लाभ होते हैं, लेकिन इन्हे भूल कर भी घर के पश्चिम और दक्षिण दिशा मे नहीं लगाना चाहिए।

FAQ : शनि की साढ़ेसाती से मुक्ति कैसे पाये?

अगर किसी को शनि देव की साढ़ेसाती लगी हुई हैं और वो परेशान हैं तब ऐसी स्थिति मे उस जातक को हर शनिवार के दिन भगवान शनिदेव को अपराजिता के फूल चढ़ना चाहिए, ऐसा करने से जल्दी ही उसकी यह दशा दूर हो जाएगी।

डिस्क्लेमर – यह जानकारी ज्योतिष शास्त्रो पर आधारित वैबसाइट और किताबों से ली गई हैं, इसकी सत्यता की पुष्टि meribaate.in नहीं करता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *