आज हम आपको शनि देव से जुड़े ऐसे कार्यों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्हें करने से शनिदेव नाराज हो सकते हैं. साथ ही उन कार्यों के बारे में जानें जिनसे शनिदेव प्रसन्न हो सकते हैं

इन कार्यों से नाराज होते हैं शनिदेव
– पशु-पक्षियों को नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए.
– दूसरों के धन को हड़पने की कोशिश नहीं करनी चाहिए
– शनि देव गलत और अनैतिक कार्यों को करने से नाराज होते हैं.
– परिश्रम करने वालों का अपमान नहीं करना चाहिए
– निर्धन और कमजोर व्यक्तियों को परेशान नहीं करना चाहिए.
– मित्र और रिश्तेदारों को धोखा नहीं देना चाहिए.
– दूसरों के हितों की अनदेखी नहीं करनी चाहिए

इन कार्यों से खुश होते हैं शनिदेव
– शनि चालीसा का पाठ करना चाहिए.
– दूसरों की सदैव मदद करें.
– कुष्ट और गंभीर रोगों से पीड़ित व्यक्तियों की सेवा करनी चाहिए.
– जरूरमंद व्यक्तियों की सहायता करनी चाहिए.
– ज्येष्ठ मास मे प्याऊ लगाने चाहिए, प्यासे लोगों को जल पीलाना चाहिए.
– निर्धन व्यक्तियों को अन्न, काला छाता और काला कंबल आदि का दान करना चाहिए.
– प्रकृति की रक्षा और सेवा करनी चाहिए

शनि की कृपा पाने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

ज्योतिष के जानकारों का ये मानना है कि शनि की कृपा पाने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी है.

आइए जानें, शनि की कृपा कब और कैसे मिलती है…

-जब व्यक्ति सत्य बोलता है और अनुशासित रहता है.

– जब व्यक्ति कमजोर और निर्बल लोगों की खूब सेवा करता है.

See also  क्या सच मे श्री कृष्ण के 16000 पत्नियाँ थी? आइये जानते हैं सच्चाई? देश के एक पैसा खोर पार्टी तो सुप्रीम कोर्ट मे राम के अस्तित्व को नकार चुकी हैं

– जब व्यक्ति अपने बड़े बुजुर्गों की सेवा करता है.

– जब व्यक्ति फलदार और लम्बी अवधि तक रहने वाले पेड़ लगाता है.

– जब व्यक्ति भगवान शिव की या कृष्ण की नियम पूर्वक उपासना करता है.

कुछ सरल उपाय शनि को करेंगे प्रसन्न

अगर शनि नाराज हो जाएं तो जीवन में परेशानियों का अंबार लग जाता है. ऐसे में ये जानना जरूरी है कि शनि की बुरी नजर से बचने के उपाय क्या हैं. ताकि शनि की कृपा आप पर बनी रहे. ज्योतिष में कुछ सरल उपाय हैं जिन्हें अपनाकर आप शनि की टेढ़ी नजर से बच सकते हैं.

– कभी भी शनि के किसी ऐसी मूर्ति के दर्शन ना करें जिसमें शनि की आंखें हो.

– हर शनिवार के दिन लाल वस्त्र धारण करके हनुमान जी के सामने खड़े हों.

– हनुमान चालीसा का पाठ करें.

– रोज शाम पश्चिम दिशा की ओर दीपक जलाकर शनि देव के मंत्र का जाप करें.

– घर के छोटों और सहायकों के साथ अच्छा व्यवहार रखें.

– नीले रंग का अधिक से अधिक प्रयोग करें.

इसके साथ ही आप कुछ और उपायों से शनि को प्रसन्न कर सकते हैं…

– जीवन में ईमानदार बनें, सत्य बोलें और बड़े बुजुर्गों को सम्मान दें.

– तुलसी के पौधे में और पीपल में जल डालें.

– शनिवार सायंकाल सरसों के तेल का दीपक चौराहे या पीपल के नीचे जलाएं.

– कभी भी हरे पेड़ ना काटें, गर्भपात ना करवायें.

– सूर्योदय के पूर्व अवश्य जागें और शिव जी की उपासना करें.

– शनि देव के मूल मंत्र ‘ॐ शं शनैश्चराय नमः’ का जाप करें.